कॉफी बोर्ड जलवायु प्रतिरोधी किस्मों को विकसित करने के लिए सहयोग करेगा — इसरो के साथ

● कॉफी बोर्ड और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए
● इस समझौते में जलवायु-लचीला किस्मों के प्रजनन और कॉफी में कार्बन पृथक्करण क्षमता का आकलन करने के संबंध में हस्ताक्षर किए गए थे।
● इस समझौते से कॉफी बोर्ड को जलवायु परिवर्तन से संबंधित पैटर्न को समझने में आसानी होगी जो काफी के नए किस्म के उत्पादन लिए काफी संवेदनशील होता है।
● केंद्रीय कॉफी अनुसंधान संस्थान (सीसीआरआई) कर्नाटक के चिकमगलूर जिले में स्थित है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*